महाविद्यालय के प्राचार्य के मनमानी के खिलाफ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का प्रदर्शन

1893

बेतिया अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा नगर के स्थानीय महारानी जानकी कुंवर महाविद्यालय के प्राचार्य एवं परीक्षा नियंत्रक आर के चौधरी के खिलाफ जमकर नारेबाजी एवं आक्रोश व्यक्त किया गया!

नेतृत्व कर रहे विद्यार्थी परिषद के एम जे के कॉलेज अध्यक्ष रवि पटेल ने प्रचार्य पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रचार्य विश्व विद्यालय के आदेश को ताक पर रखते हुए स्नातक प्रथम खंड के नामांकन की जांच परीक्षा 10 जुलाई 2017 को आयोजित किया है जबकि विश्वविद्यालय का आदेश 15 जुलाई 2017 तक नामांकन हेतु आवेदन का समय है! अभी बहुत से विषयों में सीट से कम आवेदन हुई है ! 

प्रचार्य रामप्रताप नीरज एवं परीक्षा नियंत्रक डॉक्टर आरके चौधरी के मिलीभगत से समय से पहले नामांकन परीक्षा ले लेना चाहते है, ताकि दलालों के माध्यम से सीट को भरा जाए! जब इसकी सूचना अभाविप द्वारा कुलपति महोदय को टेलीफोन से दी गई तो प्रचार्य महोदय ने आनन फानन में परीक्षा स्थगित कर दिया तथा आवेदन की तिथि 15 जुलाई 2017 तक बढ़ा दिया! नगर सह मंत्री राहुल पाण्डेय ने कहा कि विद्यार्थी परिषद हमेशा छात्र हित में कार्य करती आई है, जो हमेशा छात्रों के हित के लिए लड़ाई लड़ी है ! 

अभाविप के विद्रोह के वजह से ही जो छात्र आवेदन करने से वंचित रह गए हैं उन्हें 15 जुलाई 2017 तक आवेदन करने का मौका मिल गया है! इस मौके पर अभिषेक कुमार, नगर सह मंत्री नितीश पटेल, धन रंजन कुमार उर्फ़ गुड्डू, रजनीश गोस्वामी, आर्यन अग्निहोत्री, सुनील पासवान, रंजन कुमार आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे!

https://www.janasarokardainik.com/wp-content/uploads/2023/06/chapur-7-2.jpg